तहसीलदार द्वारा अधिवक्ताओं का किया जा रहा शोषण

रिपोर्ट:संवाददाता(विवेक द्विवेदी)
हरदोई /संडीला :- आज दिनांक 18 /1/2019 अधिवक्ता समिति संडीला अध्यक्ष महोदय मोहम्मद नसीम के द्वारा प्रेस वार्ता बुलाई गई, जिसमें मुख्य बिंदुओं पर चर्चा की गई तहसीलदार न्यायिक कोर्ट व बैनामा दाखिल खारिज खतौनी फीडिंग धारा 38 के बाद निस्तारण वरासत आदि पर चर्चा की गयीं जनहित को देखते हुए मुख्य बिंदुओं पर मुख्य रूप से चर्चा की गई, जिसमें उपस्थित अधिवक्ता समिति संडीला के समस्त पदाधिकारी मौजूद रहे माननीय अध्यक्ष महोदय के द्वारा यह भी कहा गया कि तहसीलदार महोदय के द्वारा अधिवक्ताओं का शोषण किया जा रहा है | न्याय के लिए वादकारी भटक रहे हैं श्री अध्यक्ष जी का यह भी कहना है की तहसीलदार महोदय के द्वारा ₹1000 बैनामा दाखिल खारिज लिया जा रहा है | जिससे अधिवक्ताओं व वादकारियों मे आक्रोश है वादकारीयो को काफी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है, तहसीलदार महोदय के द्वारा अभी तक मात्र 15 वादों का निस्तारण किया गया है | 113 बाद थे 4 माह 18 दिन से बंद चली आ रही तहसीलदार न्यायिक कोर्ट अभी तक नहीं खुली है जबकि बोर्ड को सूचना भी हो चुकी है सण्डीला की तहसीलदार न्यायिक कोर्ट लगभग 4माह18 दिनों से बन्द होने के कारण वादकारी परेशान किन्तु जुम्मेदार यह नही बता पा रहे कि कोर्ट कब से शुरू होगी।

 

 

तहसील न्यायिक कोर्ट सण्डीला के पीठासीन अधिकारी आर0एस 0डी0 दिवेदी की सेवानिवर्ती 31 अगस्त को हो गए थे खास बात यह है कि इस कोर्ट के पेशकार का तबादला एक माह पूर्व हो चुका था। 1 सिंतबर से लगातार कोर्ट बन्द चल रही है | इस कोर्ट में तहसील के सवार्धिक मुकदमे चलते थे इस लिये सबसे अधिक वादकारी इस कोर्ट के बंद होने से प्रभावित है | बार एसोसिएशन सण्डीला के पूर्वअध्यक्ष हरिश्चन्द्र द्वारा पीठासीन अधिकारी पर मुकदमो में बड़े पैमाने पर मनमाने आदेश पारित करने की शिकायत अध्यक्ष राजस्व परिषद से की थी | राजस्व परिषद की टीम द्वारा जांच में प्रारंभिक तौर पर शिकायत सही पाई गई जिसके कारण तीन सदस्यीय टीम जिसमे अपरजिलाधिकारी संजय कुमार,उपजिलाधिकारी उदयभान सिंह,तहसीलदार संजय कुमार को रक्खा गया की निगरानी में लगभग 3माह पूर्व कोर्ट का ताला तोड़कर पत्रावलियों का मिलान कराया गया था किन्तु अभी तक कोई भी जुम्मेदार अधिकारी यह बताने को तैयार नही है कि आखिर कोर्ट कब से शुरू होगी |

 

 

पीठासीन अधिकारी द्वारा पारित आदेशो की जानकारी भी वादकारी को न हो पाने के कारण समस्या दिन प्रतिदिन गंभीर होती जा रही है।अधिवक्तागण भी अपने वादकारियों को स्थित की जानकारी नही दे पा रहे है। अधिवक्तागणो मे तहसीलदार की कार्यशैली से आक्रोश व्याप्त है जिससें आज दिनांक 18/1/2019 को समस्त अधिवक्तागण न्यायिक कार्य से विरत रहे है अध्यक्ष महोदय मो.नसीम खां व मंत्री महोदय प्रदीप द्विवेदी जी के द्वारा अवगत कराया गया कि अगर तहसीलदार महोदय न्यायिक कोर्ट को व अपने द्वारा वादकारियों की परेशानी को नहीं समझेंगे तो वह दिनांक 21/1/2019दिन सोमवार समय 1बजे दोपहर मे तहसीलदार सण्डीला का पुतला दहन करने का संकल्प लिया है प्रेसवार्ता मे एडवोकेट पवन तिवारी,एडवोकेट बी.पी.सिहं, एडवोकेट गंगा राम,आदि लोग मौजूद रहे |

 




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *