दंतेवाड़ा : छत्तीसगढ़ में नक्सलियों ने दिखाया अपना खूनी खेल, एक पत्रकार समेत चार जवान हुए शहीद

readertimes.com

दंतेवाड़ा :- छत्तीसगढ़ में अगले महीने होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नक्सलियों ने एकबार फिर अपना खूनी रंग दिखाया है। नक्सली बड़ी वारदात को अंजाम देकर अपनी हनक दिखाना चाह रहे हैं । छत्तीसगढ़ राज्य के दंतेवाड़ा के अरनपुर थाना क्षेत्र में नक्सलियों द्वारा घात लगाकर किए गए हमले में एक पत्रकार की मौत हो गई, इससे कुछ दिन पहले राज्य के बीजपुर में भी नक्सलियों ने हमले में चार जवान शहीद हो गए थे। राज्य में 90 विधानसभा सीटों पर दो चरणों में मतदान होना है। पहले चरण में 18 सीटों पर 12 नवंबर को वोटिंग होगी जबकि दूसरे चरण में 78 सीटों पर वोटिंग 20 नवंबर को होगी।

readertimes.com

 

बीएसएफ कमांडेंट आरजे हंसदा ने बताया कि रविवार सुबह कांकेर जिले में भुसकी स्थित बीएसएफ 175वीं बटालियन कैंप से महज 500 मीटर दूर पखांजूर मार्ग पर बिजली टावर के पास नक्सलियों ने बम विस्फोट किया। सुरक्षा बलों को नुकसान पहुंचाने के लिए नक्सली सीरियल ब्लास्ट करना चाहते थे । सतर्क जवानों ने प्लान किए गए बमों में से दो को मौके पर ही विस्फोट कर नष्ट किया जबकि दो बम को बीएसएफ कीबीडीएस टीम ने डिफ्यूज कर दिया। ये कुकर बम 5-5 किलोग्राम के थे।

 

readertimes.com

बीएसएफ और पुलिस की संयुक्त टीम रोज की तरह दुर्गूकोंदल पखांजूर मार्ग पर रूटीन गश्त के लिए निकली थी, जबकि इसी इलाके से बीती रात को भी जवान गश्त कर आठ बजे लौटे थे। इसके बावजूद नक्सलियों ने यहाँ बीएसएफ और पुलिस को चकमा दे कर बम प्लान कर दिया। मौके पे वायर, एक खाली कूकर, टूटे हुए कूकर के टुकड़े, बैट्री भी बरामद की गई है।

 

 

छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने इन हमले की कड़े शब्दों में निंदा की है। डॉ. सिंह ने इस हमले में पुलिस के दो जवानों और दूरदर्शन नई दिल्ली के एक कैमरामेन की शहादत पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। उन्होंने इस हमले की तीव्र निंदा करते हुए कहा है कि यह नक्सलियों की कायरतापूर्ण और शर्मनाक हरकत है। शहीद जवान और कैमरामेन निर्वाचन जैसे राष्ट्रीय कार्य के लिए अपने कर्तव्यों का पालन कर रहे थे। उन पर हमला करके नक्सलियों ने देश के लोकतंत्र पर हमला किया है, जो निंदनीय है।

 

 

मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने यह भी कहा की देश, प्रदेश और समाज के सभी लोगों को एक स्वर से उनकी ऐसी हरकतों की कठोर शब्दों में निंदा करनी चाहिए और हिंसा तथा आतंक के खिलाफ सबको एकजुटता का परिचय देना चाहिए। इस नक्सल हमले में पुलिस के उप निरीक्षक श्री रूद्रप्रताप सिंह, सहायक आरक्षक श्री मंगलराम और दूरदर्शन नई दिल्ली के कैमरामेन श्री अच्युतानंद साहू शहीद हुए हैं। मुख्यमंत्री ने घायल जवानों के जल्द स्वास्थ्य लाभ की कामना की है और अधिकारियों को उनका बेहतर से बेहतर इलाज करवाने के निर्देश दिए हैं।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *