पाकिस्तानी गोलाबारी के बाद इंडियन आर्मी ने तबाह किया दुश्मन का सैन्य मुख्यालय

ARMY

पाकिस्तान कभी भी अपनी हरकतों से बाज नहीं आता है . हमेशा LOC पर सीजफायर का उलंघन  करता रहता है . 23 अक्टूबर को पुंछ और झल्लाह सेक्टर के कई इलाकों में 120 और 182 एमएम मॉर्टार के जरिए पकिस्तान की तरफ से भारी गोलाबारी की गई थी . भारतीय सेना ने जवाबी कार्यवाही करते हुए नियंत्रण रेखा से सटे 20 किलोमीटर अन्दर बसे पाक सेना के प्रशासनिक भवन को ध्वस्त कर दिया . शुरूआती जानकारी के अनुसार 21 अक्टूबर को पकिस्तान की बैट टीम ने भारतीय जवानो पर हमला किया था . इस हमले में 3 भारतीय जवान शहीद हुए थे और 1 जवान घायल हो गया था .

23 अक्टूबर को दोनों देशो के सैन्य अधिकारियों ने हॉट लाइन पर नियंत्रण रेखा पर तनाव की स्थिति के बारे में बात की पर पकिस्तान अपनी बात पर कभी कायम नहीं रहता और गिरगिट की तरह रंग बदलते हुए उसी दिन पाकिस्तानी सेना ने पुंछ और झल्लाह सेक्टर के कई इलाको में 120 और 182 एमएम मॉर्टार के जरिए भारी गोलाबारी की थी . पाक ने 23 अक्टूबर को नियंत्रण रेखा स्थित चिड़ीकोट क्षेत्र से पुंछ ब्रिगेड मुख्यालय पर  गोला दागा . यह एक टीनशेड में बने पुराने सामान के स्टोर पर गिरा, जिससे वहां आग लग गई . घटना के बाद सेना, पुलिस और सेना की फायर ब्रिगेड के अधिकारी ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया था .

घटना में कोई जानी नुकसान नहीं हुआ, लेकिन 20 साल बाद नगर में पाकिस्तानी गोला गिरने से लोगों में दहशत हो गई थी . घटना के बाद पूरे सीमावर्ती इलाके के स्कूल बंद करा दिए गए थे .  23 अक्टूबर सुबह सवा दस बजे नगर स्थित पुंछ ब्रिगेड मुख्यालय में एक गोला गिरा . धमाके की आवाज कई किलोमीटर दूर तक सुनाई दी . सेना और पुलिस ने पूरे क्षेत्र की घेराबंदी कर वाहनों और लोगों की आवाजाही पर रोक लगा दी . एसएसपी राजीव पांडे, डीएसपी हेडक्वार्टर नवाज खांडे सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे थे . एसएसपी ने बताया कि प्राथमिक जांच में लगता है कि गोला नियंत्रण रेखा के उस पार से आया है .

इसमें किसी प्रकार नुकसान नहीं हुआ है और जांच जारी है . दिगवार के ग्रामीणों का कहना है कि गांव के ऊपर से गोले के गुजरने की आवाज सुनी थी , जिसके बाद पुंछ ब्रिगेड मुख्यालय में जोरदार धमाका हुआ . वहीं, कृष्णा घाटी सेक्टर के अंतर्गत सलोत्री क्षेत्र में भी पाकिस्तान ने शाम को अग्रिम चौकी को निशाना बनाकर गोला दागा . यह गोला 4 मराठा लाई की अग्रिम चौकी रियर के पास शाम 6.20 बजे गिरा . हालांकि, इसमें भी किसी के नुकसान की कोई सूचना नहीं है . जवाबी कार्यवाही में भारतीय सेना ने नियंत्रण रेखा के पास मौजूद पाकिस्तानी सेना के प्रशासनिक मुख्यालय को ध्वस्त कर दिया . माना जा रहा है कि पकिस्तान को इससे काफी नुकसान हुआ है .

 




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *