पुलिस का मानवीय चेहरा आया सामने

गरीब के अन्तिम संस्कार पर पुलिस ने की आर्थिक मदद ,  दुर्घटना में मृत गरीब छात्र की मौत पर पिता को दी आर्थिक मदद व कराया अंतिम संस्कार |

रिपोर्ट : आशीष गुप्ता ,रीडर टाइम्स

हरदोई : पुलिस को हमेशा नकारात्मक चेहरे के रूप में पेश किया जाता है,, वहीं हरदोई में पुलिस का मानवीय चेहरा सामने आने से नागरिकों के अंदर पुलिस के प्रति नजरिया बदलता नजर आ रहा है| यहां के हरियावां थानाध्यक्ष ने एक 16 वर्षीय गरीब छात्र की मार्ग दुर्घटना में मृत्यु के बाद गरीबी के चलते उसके पिता को पुत्र के अंतिम संस्कार के लिये 7 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देकर पुलिस का मानवीय चेहरा उजागर किया है | जिससे पुलिस की क्षेत्र में भूरि-भूरि प्रशंसा की जा रही है |

हरियावां थानाध्यक्ष फूलचन्द्र सरोज ने क्षेत्र के बिलहरी गांव निवासी 16 वर्षीय छात्र धीरू पाल की ट्रक दुर्घटना में मृत्यु के बाद गरीबी के चलते उसके पिता वेदप्रकाश को पुत्र के अन्तिम संस्कार के लिये 7 हजार रुपये की आर्थिक सहायता देकर पुलिस का मानवीय चेहरा उजागर किया है| जिससे उनकी क्षेत्र में भूरि-भूरि प्रशंसा की जा रही है |

थानाध्यक्ष फूलचंद सरोज ने बताया कि छात्र की मौत गन्ने लदे ट्रक से मार्ग दुर्घटना में हो गई थी| उसके पिता वेद प्रकाश की आर्थिक स्थिति बहुत खराब थी| इसलिए थाने के सभी कर्मचारियों के सहयोग से आर्थिक मदद देते हुए मृतक छात्र के पिता को आर्थिक सहायता देते हुए अंतिम संस्कार कराया गया |

फूलचन्द्र सरोज (थानाध्यक्ष, हरियावां, हरदोई)




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *