फाइव स्टार होटल में आशीष पांडेय ने की गुंडई, पुलिस ने मारे ठिकानों छापे

bsp-mp-son-644x362

नई दिल्ली: दिल्ली के फाइव स्टार हयात होटल में 13 अक्टूबर की रात एक शख्स ने गुंडागर्दी की, लेडीज टॉयलेट में घुसने को लेकर हुए विवाद के बाद युवक ने पिस्टल निकालकर लड़की और उसके दोस्त को धमकाया, सरेआम पिस्टल लेकर प्रदर्शन किया, दो दिन बाद वीडियो वायरल होने पर मामले का खुलासा हुआ, जिसके बाद आरोपी पर केस दर्ज हुआ, उसकी पहचान आशीष पांडेय के रूप में हुई, आशीष का नाता यूपी के राजनीतिक रसूखदार और बाहुबली परिवार से बताया जाता है | गौरव ने पुलिस को दिए बयान में बताया कि उस दिन क्या-क्या हुआ।

 

 

आपको बता दें कि अंबेडकरनगर के बसपा के पूर्व सांसद राकेश पांडेय के बेटे आशीष पांडेय ने नई दिल्ली के फाइव स्टार होटल हयात में गुंडागर्दी की थी। जिसके बाद मंगलवार दोपहर बाद दिल्ली पुलिस की एक टीम ने लखनऊ पहुंची और ताबड़तोड़ छापेमारी की। लेकिन उसका कहीं पता नहीं चल पाया।

 

 

डीजीपी ओपी सिंह ने आशीष की तलाश में एसटीएफ को भी लगा दिया है।एसएसपी कलानिधि नैथानी ने बताया कि आशीष पांडेय मूलरूप से अंबेडकरनगर का है। लखनऊ में गोमतीनगर के विभवखंड और गौतमपल्ली स्थित संतुष्टि अपार्टमेंट में रहता है। उसके पिता राकेश पांडेय अंबेडकरनगर से बसपा से विधायक और सांसद रह चुके हैं।

 

bSP-b_151018

मंगलवार को पांच फाइव स्टार में खुलेआम पिस्टल लेकर गुंडई का वीडियो वायरल होने के बाद हरकत में आई दिल्ली पुलिस दोपहर बाद करीब चार बजे उसकी तलाश में लखनऊ पहुंची। आरकेपुरम थाना के एसएचओ हरीशचंद्र के नेतृत्व में आई पुलिस टीम सबसे पहले आशीष के संतुष्टि अपार्टमेंट स्थित फ्लैट में पहुंची।

 

 

एसएसपी ने बताया कि दिल्ली पुलिस के सहयोग के लिए सरोजनीनगर थाना के प्रभारी निरीक्षक रामसूरत सोनकर को साथ भेजा गया था। पुलिस ने संतुष्टि अपार्टमेंट में आशीष के फ्लैट की करीब डेढ़ घंटे तक तलाशी ली। हालांकि वहां कुछ भी हाथ नहीं लगा।

 

 

इसके बाद पुलिस टीम उसके अन्य ठिकानों पर देर रात तक दबिश देती रही। एसएसपी ने बताया कि आशीष की गुंडागर्दी का वीडियो वायरल होने के बाद क्राइम ब्रांच की एक टीम विभव खंड और संतुष्टि अपार्टमेंट स्थित आवास पर लगा दी गई थी। एसटीएफ की एक टीम ने भी दोपहर को दोनों जगह पहुंचकर आशीष के बारे में जानकारी ली।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *