महागठबंधन के ऐतिहासिक फैसले के समर्थन में जनता का उत्साह देखकर भाजपा की भाषा बदल गयी

06-05 d

                                                                                    समाजवादी पार्टी, लखनऊ, उत्तर प्रदेश

रिपोर्ट :संवाददाता(आशुतोष कुमार)
लखनऊ :- समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने महागठबंधन के प्रत्याशियों महाराजगंज से कु0 अखिलेश सिंह, कुशीनगर से श्री नथुनी प्रसाद कुशवाहा और देवरिया से श्री विनोद जायसवाल के समर्थन में आयोजित चुनावी जनसभाओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि महागठबंधन के ऐतिहासिक फैसले के समर्थन में जनता का उत्साह देखकर भाजपा की भाषा बदल गयी है।

 

 

2014 में भाजपा ने जनता से झूठे वादे कर वोट ले लिया था। लेकिन केन्द्र के पांच साल और राज्य की भाजपा सरकार के दो साल के कार्यकाल का भाजपा के पास कोई हिसाब-किताब नहीं है। 2017 के विधानसभा चुनाव में हम जनता को समझाते रहे कि नोटबंदी से देश की अर्थव्यवस्था बदहाल हो गयी। लेकिन जनता को लगा कि उनके खाते में 15 लाख आ जायेगा। जनता आज भी इंतजार कर रही है जबकि कालाधन के नाम पर देश का पैसा लेकर कई उद्योगपति हवाई जहाज से विदेश भाग गये।

 

 

श्री यादव ने कहा कि यह महत्वपूर्ण चुनाव है। भाजपा के लोग देश को न जाने किस दिशा में ले जाना चाहते है। देश के प्रधानमंत्री जी आतंकवाद पर बात कर रहे हैं। लेकिन पांच साल में आतंकवाद रोकने के लिये कौन से फैसले लिये इस पर चुप है। जनता को इस चुनाव में मुद्दे से नहीं हटना है।

 

 

श्री यादव ने कहा कि यह सरकार बीएसएफ के एक जवान से परेशान हो गयी। किसानों को भाजपा ने आत्महत्या करने पर विवश कर दिया है। भाजपा सरकार किसान और नौजवान विरोधी हैं। किसानों से किया गया वादा भाजपा भूल गयी। उसकी खाद की बोरी से पांच किलों खाद चोरी हो गई। सिलेंडर में गैस कम कर दी गई।

06-05 c

 

श्री अखिलेश यादव ने कहा कि प्रधानमंत्री जी हमारे आपके नही हैं। वह केवल उद्योगपतियों और पूंजीपतियों के हैं। नोटबंदी और जीएसटी से बड़े उद्योगपतियों को लाभ मिला। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी की ठोको नीति से पुलिस अपमानित हो रही है। पुलिस व्यवस्था को भाजपा ने ध्वस्त कर दिया है।

 

 

श्री यादव ने कहा कि भाजपा का भाषण शौचालय से शुरू होता है और उसी पर खत्म हो जाता है। भाजपा की नीतियों से देश पीछे जा रहा है। उन्होंने अच्छे दिन लाने का वादा किया था जबकि बुरे दिन आ गये। नौजवानों को करोड़ो रोजगार मिलने की बात कही गयी थी जबकि नोटबंदी से रोजगार छिन गए। भाजपा सरकार की दोषपूर्ण नीतियों के कारण देश की अर्थव्यवस्था बर्बाद हो गयी। डिजिटल इण्डिया, मेक इन इण्डिया, स्किल इण्डिया, मुद्रा, जनधन योजना, स्टैण्ड अप इण्डिया जैसी योजनाओं का क्या हुआ?

 

 

श्री यादव ने कहा कि महागठबंधन से बड़े-बड़े घबड़ा गये हैं। उपचुनाव में मुख्यमंत्री रहते गोरखपुर की सीट हारनी पड़ी। यह महागठबंधन स्थायी है। इसी से महापरिवर्तन होगा। आजादी के 70 सालों बाद जिन्हें हक और सम्मान नहीं मिल पाया उन्हें सम्मान दिलाने का काम यह गठबंधन करेगा। यह सामाजिक न्याय लाने का गठबंधन है। इसलिये महागठबंधन के प्रत्याशियों की जीत सुनिश्चित करना जरूरी है।

 

 

श्री अखिलेश यादव ने कहा कि महागठबंधन किसानों के हित में फैसले लेकर देश को खुशहाली के रास्ते पर ले जायेगा। पुरानी पेंशन को भाजपा ने उलझा दिया है। महागठबंधन की सरकार बनने पर इस समस्या का समाधान निकाला जायेगा। उन्होंने महागठबंधन के प्रत्याशियों को भारी बहुमत से विजयी बनाने की अपील की, जिससे भाजपा को धोखा देने का सबक सिखाया जा सके।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *