Category: अन्य

gazal final

ग़ज़ल : ज़ेहन पे छाई हैं जो बदलियां हटा के चलो, ग़लत निज़ाम पे अब बिजलियाँ गिरा के चलो

ज़ेहन  पे  छाई  हैं  जो  बदलियां हटा  के चलो, ग़लत निज़ाम पे अब...

ugta sun

एक सच्ची नज़्म : उठ जाग मुसाफ़िर भोर भई

उठ जाग मुसाफ़िर भोर भई रातों की साँसें थमती थी, सुबह का अंधेरा हर...

rawan

एक अनुभूति : रावण नामा 

  रावण था विद्वान महापंडित प्रतापी, दसों दिशा धरती पर्वत थी उस...

RIZVI SIR

सारा जग है नयन पसारे धुंधला धुंधला है उजियारा

सारा जग है नयन पसारे धुंधला  धुंधला  है उजियारा, बांह से बांह का...

final gajal

कल तलक जो ख़्वाब था अब वह हक़ीक़त बन गई

कल तलक जो ख़्वाब था अब वह  हक़ीक़त बन गई, जिस  से  था  ना आशना  वह शय ...

lady

मकानों को हसीं घर जो बना देती वो औरत है

किश्वरी कनेक्ट और तलहा सोसाइटी के प्रोग्राम ( ज़ायक़ा और ज़बान ) के...

IMG-20181113-WA0041

दिल में ख़्वाहिश है कि बस जाऊं मैं अफ़सानों में, मेरा भी ज़िक्र छिड़े बज़्म में, मयख़ानों में

ग़ज़ल दिल में ख़्वाहिश है कि बस जाऊं मैं अफ़सानों में, मेरा   भी ...

IMG-20181113-WA0041

ग़ज़ल : हर मोड़ पे इक ज़ख्म नया खाएंगे हम लोग , इस दशते मुसीबत में जो रह जाएंगे हम लोग

हर मोड़ पे इक ज़ख्म नया खाएं गे हम लोग, इस दशते मुसीबत में जो रह जाएं...

final gajal

ग़ज़ल : क़ल्बो ज़ेहन का हुस्न मोहब्बत का तक़ाज़ा, इंसानियत की शान मुरव्वत का तक़ाज़ा

क़ल्बो ज़ेहन का हुस्न मोहब्बत का तक़ाज़ा, इंसानियत  की  शान  मुरव्वत ...

maxresdefault (5)

फालूदा कुल्फी

फालूदा रेसिपी की सामग्री   ¼ कप सेवई ⅛ कप मावा ½ टीस्पून रोजमेरी...