रामनगर कोसी में डूबी युवती

Capture

रामनगर (नैनीताल)

दिल्ली से घूमने आई एक युवती गर्जिया मंदिर के पास कोसी नदी में नहाते समय डूब गई, उसे आनन-फानन में रामनगर अस्पताल में लाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया, 24 वर्षीय कशिश पुत्री इश्तियाक अहमद नई बस्ती गोपाल मंदिर मूलरूप से हल्द्वानी की रहने वाली थी, वह दिल्ली में किसी प्राइवेट कंपनी में काम करती थी और दिल्ली में रईस के घर किराए पर रहती थी, शनिवार दोपहर वह संगम विहार के रहने वाले टेंपो चालक रईस और उसके दो बेटों सलमान (15) और अरबाज (13) के साथ गर्जिया मंदिर पहुंची, चारों हरियाणा के रहने वाले राजेश पुत्र दीपचंद की कार (एचआर-95-8640) बुक कराकर लाए थे, कोसी नदी में नहाते समय वह डूब गई, आवाज सुनकर उसके साथ आए लोगों ने स्थानीय युवकों की मदद से उसे निकाला, गर्जिया चौकी इंचार्ज हरीश पुरी तुरंत उसे अस्पताल ले गए।

 

 

रामनगर में गर्जिया मंदिर के पास नहाते समय हादसा

नैनीताल घूमकर पहुंचे थे, गर्जिया

रामनगर, टेंपो चालक रईस के अनुसार चारों शुक्रवार की शाम साढ़े छह बजे दिल्ली से चले थे, रास्ते में जाम लगा होने की वजह से सुबह करीब चार बजे हल्द्वानी पहुंचे, कशिश ने नई बस्ती में एक जगह कार रुकवाई और मां से मिलने की बात कहकर चली गई, इस दौरान सभी कार के अंदर ही सोए रहे, करीब दो घंटे बाद उसके आने के बाद सभी नैनीताल घूमने गए, दोपहर करीब क बजे गर्जिया मंदिर पहुंचे।

 

 

रईस के घर में किराये पर रहती थी 

रामनगर। रईस के बेटे सलमान ने बताया कि कशिश उनके घर में किराए पर रहती थी, लेकिन कुछ समय पहले वह सरिता विहार दिल्ली में रह रही थी, रईस ने बताया कि वह उसके टेंपो से दिल्ली में इधर-उधर जाती थी, जब उसे किराये पर रखा था, तो वह तीन महीने तक आईडी प्रुफ नहीं दे पाई थी, तब से कमरा खाली करा दिया था, मां के पैर में चोट लगने की बात कही थी |

 

 

 

रामनगर

 

रईस के अनुसार कशिश दो दिन पहले उसके घर आई थी ,और पत्नी नगमा से कहा कि उसकी मां के पैर में चोट लगी है, वह हल्द्वानी जा रही हूं, उसने छह हजार रुपये में कार बुक की थी, रईस के अनुसार जब उसके बेटों को साथ ले जाने की बात कही तो पत्नी ने उसे भी तीनों के साथ भेज दिया |

 

 

युवती के मोबाइल से मां सलमा का नंबर मिला है, उससे बात हो गई है, रविवार की सुबह युवती के परिजन रामनगर पहुंचेंगे, फिलहाल पुलिस मामले की जांच पड़ताल में जुटी है।

 




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *