टास्क के दौरान, खान सिस्टर्स और सुरभि में हुई नोक-झोक

253c1875c-1

सीजन १२ में हुए ज्वालामुखी टास्क के दौरान रोमिल-सुरभि, सबा-सोमी और शिवाशीष-सौरभ की जोड़ी जीती, जिसके बाद तीनों में कैप्टेंसी जीतने के लिए एक मुकाबला हुआ, इस मुकाबले में तीनों जोड़ियों में से हर एक कंटेस्टेंट को कैप्टेंसी का एक रिंग पकड कर रखना था| तीनों में से जो भी उस रिंग को छोड़ेगा वो कैप्टेंसी से बाहर हो जायगा, टास्क के दौरान सोमी और सुरभि के बीच जमकर तू तू मैं मैं हुई, लेकिन गुरुवार को हुए इस टास्क में कोई भी नतीजा सामने नहीं आया |

 

 

वहीं इससे पहले भी खान सिस्टर्स और वाइल्ड कार्ड एंट्री सुरभि राणा के बीच जमकर बहस हो चुकी थी | दरअसल बीते दिन कैप्टेंसी को लेकर खान सिस्टर्स ने मां की कसम खाकर कह दिया था, कि हम कैप्टेंसी नहीं लेंगे लेकिन बिग बॉस की तरफ से कैप्टेंसी टास्क के लिए चुने जाने पर उनका सहमति जता देना सुरभि को कुछ अच्छा नहीं लगा |

सुरभि ने उनसे सवाल किया कि जब आपने मां कसम खाकर कहा था, कि हमें नहीं चहिये कैप्टेंसी तो अब क्यों आप लोग कैप्टेंसी के लिए होने वाले टास्क में पार्टिसिपेट कर रही हैं, इस बात पर तीनों सबा-सोमी और सुरभि के बीच झगड़ा हो गया | ये झगड़ा इतना बढ़ गया कि बात गाली गलौच तक उतर आई जोकि घर वालों को पसंद नहीं आया |

 

 

जल्द में अपने ब्रेकअप की खबरों से चर्चा में आने वाली जोड़ी अनूप जलोटा और जसलीन के बीच, दिन में मीठी नोक झोंक शुरू हुई, जिससे जसलीन खुश होकर अनूप से बोलींकी भगवान का लाख लाख सुकर है की आपने मुझसे बात तो की. इस पर अनूप कहते हैं, कि कपड़ों से ज्यादा हमसे प्यार करो वरना देख लिया न जो हुआ.सलीन उनकी इस बात को वार्निंग के तौर पर लेती हैं कि अगर उन्होंने ख़याल नहीं रखा तो अनूप ऐसा फिर कर सकते हैं | जिसके बाद दोनों के बीच बढ़ी दूरियां खत्म हुईं और सब ठीक ठीक दिखने लगा |

 

 

बिग बॉस के घर में दीपक ठाकुर आजकल काफी बदले बदले नज़र आ रहे हैं. जहां वो 17वें दिन श्रीसंत और करनवीर से झगड़ गए थे वहीं आज वो जसलीन से भी भिड़ गए |

 

 

सुबह जसलीन के हाथ में झाड़ू थी, जोकि दीपक के लग जाती है | इस पर दीपक जसलीन से कहते हैं, ‘झाड़ू हटा’ जोकि जसलीन को काफी बुरा लग जाता है | जसलीन इस बात को उर्वशी से जाकर कहती हैं कि वो जाकर दीपक को तमीज सिखाएं, उर्वशी इस बारे में दीपक से जाकर बात करती हैं और दीपक गुस्से में बाहर आकर जसलीन से भिड़ जाते हैं ,कि वो बात का बतंगड़ क्यों बना रही हैं जबकि दीपक का ऐसा कोई गलत मतलब नहीं था




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *