अगर आपके पास कोई भी सबूत है तो मैं राजनीति से संन्यास लेने के लिए तैयार हूं : गौतम गंभीर

पूर्वी दिल्ली से आम आदमी पार्टी की प्रत्याशी आतिशी ने गुरुवार को अपने प्रतिद्वंदी भाजपा के प्रत्याशी गौतम गंभीर पर ये आरोप लगाया कि गंभीर ने निर्वाचन क्षेत्र में ऐसे पर्चे बंटवाए हैं, जो आपत्तिजनक और अपमानजनक हैं. आतिशी ने कहा था, “मेरा गंभीर जी से बस एक यही सवाल है के अगर वो मेरे जैसी एक सशक्त महिला को हराने के लिए इतना गिर सकते हैं तो सांसद बनने के बाद वो अपने क्षेत्र की महिलाओं को कैसे सुरक्षित करेंगे.” दिल्ली में इस पम्पलेट को लेकर काफी विवाद गरमाया हुआ है .

गौतम गंभीर ने अपने ऊपर लगे इन आरोपों को नकार दिया है सिर्फ नाकारा ही नहीं बल्कि गंभीर ने यहाँ तक कहा है कि अगर आप पार्टी ये साबित कर देती है कि ये पम्पलेट उन्होंने बंटवाया है तो वह राजनीति से संन्यास ले लेंगे . मीडिया से बात करने के दौरान उन्होंने कहा कि ,” अगर आपके पास कोई भी सबूत है तो मैं राजनीति से संन्यास लेने के लिए तैयार हूं और संन्यास पत्र भी केजरीवाल जी ही लिखें . मैं जनता के बीच दस्तखत करने को तैयार हूं . ”  गौतम गंभीर ने कहा कि अगर आपके पास कोई सबूत नहीं है तो क्या आप राजनीति से संन्यास लेंगे ? मैं ऐसी कोई टिप्पणी नहीं कर रहा कि यह पर्चे आतिशी या आम आदमी पार्टी ने ही बंटवाये हैं .

इसकी जांच होनी चाहिए और अगर मेरे या बीजेपी के खिलाफ कोई भी सबूत मिलता है तो मैं संन्यास लेने को तैयार हूं . बीजेपी प्रत्याशी गौतम गंभीर ने आप पार्टी के नेताओ को मानहानि का नोटिस भेजा है . जिसमे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल , उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और पूर्वी दिल्ली की आम आदमी पार्टी प्रत्याशी आतिशी शामिल है .

 




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *