डेगू एक गंभीर बीमारी हो चुकी है ,स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से राजधानी में हवा प्रदूषण जानलेवा

रिपोर्ट : जे . पी. द्विवेदी , रीडर टाइम्स  लखनऊ : डेगू एक गंभीर बीमारी हो चुकी है .लगातार 3 वर्षों से डेंगू की बीमारी से लगभग 800 मरीज की पुष्टि हो चुकी है स्वास्थ विभाग के अनुसार स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही नगर निगम की लापरवाही जल निगम की लापरवाही से राजधानी लखनऊ की इस समय सबसे खराब हवा प्रदूषण जानलेवा है .

राजधानी में समय समय से साफ सफाई होना अति आवश्यक है समय समय से छोटी-छोटी कालोनियों में कायदे से फागिंग व एंटी लारवा का छिड़काव हो, स्वास्थ्य शिविर लगातार लगाई जाए, नगरनिगम के द्वारा समय-समय साफ सफाई कूड़ा उठाया जाए .

घर घर का कूड़ा उठाए जाएं तो कुछ हद तक छुटकारा पाया जा सकता है स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही नगर निगम की लापरवाही से आए दिन पेपर की सुर्खियां बनी रहती है .

डेगू चिकनगुनिया महामारी खतरनाक बीमारी माननीय प्रधानमंत्री मोदी जी माननीय उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री माननीय योगी जी हाथ जोड़कर निवेदन करता हूं दया करें दया करें शासन प्रशासन जिम्मेदार अधिकारियों नगरनिगम स्वास्थ्य विभाग जलविभाग एवं क्षेत्रीय विधायक क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि को ध्यान देना होगा की आए .

दिन राजधानी लखनऊ में गंदगी और गंदे जानवर समय समय से घर घर का कूड़ा ना उठने से फागिंग एंटी लारवा स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही से आए दिन डेगू चिकनगुनिया महामारी पेपर की सुर्खियां बनी रहती हैं डेंगू बुखार डेन वायरस के कारण होता है।

एक बार शरीर में वायरस आ जाने के बाद डेंगू के बुखार के लक्षण आमतौर पर 5 से 6 दिन के भीतर दिखाई देने लगते हैं। यह एडीज नामक मादा मच्छर के काटने से होता है। इसके काटने से चिकनगुनिया भी होता है।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *