प्राचीन जीवन के निशान खोजेगा नासा का रोवर मंगल

अगले साल मंगल ग्रह पर जाने वाला नासा का रोवर प्राचीन जीवन के सुराग खोजेगा भावी मानव मिशनों का रास्ता भी साफ करेगा . नासा वैज्ञानिको ने रोवर का अनावरण करते हुए शुक्रवार को यह बात कही .

रोवर को कैलिफोर्निया के पासाडेना में जेड प्रपल्शन लैबोरेटरी के विशाल कक्ष में तैयार किया गया है . यहाँ इसके चालक उपकरण का पिछले हफ्ते सफल परीक्षण किया गया था . यह रोवर फ्लोरिडा के केप केनावरल से जुलाई 2020 में पृथ्वी से रवाना होगा .

इसी के साथ यह मंगल ग्रह पर उतरने वाला पांचवा अमेरिकी रोवर बन जाएगा . मिशन के उपप्रमुख मैट वैलेस ने बताया , ‘ इसे जीवन के चिन्हो का पता लगाने के लिए डिजाइन किया गया है .

इसलिए हम इसके साथ विभिन्न उपकरण भेज रहे है , जो मंगल की सतह पर भौगोलिक और रसायनिक संदर्भो को समझने में मदद करेंगे . रोवर पर लगे उपकरणो में 23 कैमरे और दो श्रवण यन्त्र है , जो मंगल की हवाओ को सुनेगे और रसायनिक विश्लेषणो के लिए लेजर है .




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *