बच्चो के कमरे को आकर्षक बनाने का तरीका

cac6b7269a5b32fa632447089aa76a52

आपके जीवन का नन्हा मेहमान आपके लिए जितना खास है, उसके आने से जुड़ी तैयारियों से साफ पता चल जाता है, बच्चों से जुड़ी हर चीज उतनी ही खास है, और उसे संवारने व देखभाल के लिए आप काफी कोशिश भी करते हैं,बच्चों में रचनात्मकता बढ़ाने में उसके हिसाब से सजा-धजा कमरा भी मददगार है, बच्चे के कमरे को सजाने के लिए ज्यादा पैसा खर्च करने के बजाय इन उपायों को आजमाएं।

 

उनकी क्रिएटिविटी उभारें :

बच्चों की रचनात्मकता बरकरार रखने और कमरे को उनके लिए खास बनाने के लिए जरूरी है, उन्हीं की बनाई हुई वस्तुओ को ड्राइंग कमरों में सजाएं, क्लिप बोर्ड पर उनकी बनाई ड्राइंग को आप उनके स्टडी टेबल या बिस्तर के पास कहीं भी सजा सकते हैं।

 

बच्चे के कमरे में एक शेड्स के बजाय कई शेड्स का इस्तेमाल करें, इससे कमरे में ऊर्जा भी बरकरार रहेगी, और घर के दूसरे कमरों से आपके बच्चे का कमरा अलग भी द‌िखेगा।

 

बेड को बनाए खास :
कमरे में ज्यादा फर्नीचर रखने के बजाय गिने-जुने फर्नीचर को ही क्रिएटिव बनाएं, ऐसे में बच्चे के बेड के साथ आप काफी प्रयोग कर सकते हैं, जरूरी नहीं कि किसी डिजाइनर स्टोर से महंगा बेड खरीदें, बल्कि आप किसी भी सामान्य बेड को थोड़ी सी क्रिएटिविटी के साथ नया और रोचक लुक दे सकते हैं।

 

बच्चे का कमरा सजाते समय अपने बच्चे की पसंद का ख्याल रखें, उसकी उम्र, वह लड़का है या लड़की, उसे कौन सा रंग व कार्टून पसंद है, उसकी दिलचस्पी स्पोर्ट्स में है या किताबों में, उसे किन चीजों का शौक है?

 

इन सभी बातों को पहले जान लें:
बच्चे के कमरे में लाल, नीले, भूरे रंग या उनके पसंदीदा रंग करवाना चाहिए, कमरा अगर उनकी पसंद के रंग का होगा व दीवारों पर उसके पसंदीदा वॉल पेपर होंगे, तो उनको बहुत अच्छा लगेगा, दीवारों पर कार्टून, जानवरों व पेड़ों के स्टीकर भी लगाएं , आप चाहें तो खुद भी अपने हाथ से बने क्राफ्ट या बच्चे के बनाए हुए ड्राइंग, पेंटिंग व ग्रीटिंग भी लगा सकते हैं।

आपके जीवन का नन्हा मेहमान आपके लिए जितना खास है, उसके आने से जुड़ी तैयारियों से साफ पता चल जाता है, बच्चों से जुड़ी हर चीज उतनी ही खास है, और उसे संवारने व देखभाल के लिए आप काफी कोशिश भी करते हैं,बच्चों में रचनात्मकता बढ़ाने में उसके हिसाब से सजा-धजा कमरा भी मददगार है, बच्चे के कमरे को सजाने के लिए ज्यादा पैसा खर्च करने के बजाय इन उपायों को आजमाएं।

 

उनकी क्रिएटिविटी उभारें :
बच्चों की रचनात्मकता बरकरार रखने और कमरे को उनके लिए खास बनाने के लिए जरूरी है, उन्हीं की बनाई हुई वस्तुओ को ड्राइंग कमरों में सजाएं, क्लिप बोर्ड पर उनकी बनाई ड्राइंग को आप उनके स्टडी टेबल या बिस्तर के पास कहीं भी सजा सकते हैं।

 

बच्चे के कमरे में एक शेड्स के बजाय कई शेड्स का इस्तेमाल करें, इससे कमरे में ऊर्जा भी बरकरार रहेगी, और घर के दूसरे कमरों से आपके बच्चे का कमरा अलग भी द‌िखेगा।

बेड को बनाए खास:
कमरे में ज्यादा फर्नीचर रखने के बजाय गिने-जुने फर्नीचर को ही क्रिएटिव बनाएं, ऐसे में बच्चे के बेड के साथ आप काफी प्रयोग कर सकते हैं, जरूरी नहीं कि किसी डिजाइनर स्टोर से महंगा बेड खरीदें, बल्कि आप किसी भी सामान्य बेड को थोड़ी सी क्रिएटिविटी के साथ नया और रोचक लुक दे सकते हैं।

 

बच्चे का कमरा सजाते समय अपने बच्चे की पसंद का ख्याल रखें, उसकी उम्र, वह लड़का है या लड़की, उसे कौन सा रंग व कार्टून पसंद है, उसकी दिलचस्पी स्पोर्ट्स में है या किताबों में, उसे किन चीजों का शौक है?

बच्चे के कमरे में लाल, नीले, भूरे रंग या उनके पसंदीदा रंग करवाना चाहिए, कमरा अगर उनकी पसंद के रंग का होगा व दीवारों पर उसके पसंदीदा वॉल पेपर होंगे, तो उनको बहुत अच्छा लगेगा, दीवारों पर कार्टून, जानवरों व पेड़ों के स्टीकर भी लगाएं , आप चाहें तो खुद भी अपने हाथ से बने क्राफ्ट या बच्चे के बनाए हुए ड्राइंग, पेंटिंग व ग्रीटिंग भी लगा सकते हैं।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *