बिलग्राम में फर्जी पैथोलॉजी लैबों का फैला मकड़जाल

स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के चलते नर्सिग होम एक्ट का हो रहा खुला उल्लंघन

बिना टेक्नीशियन के चल पैथोलॉजी लैब

रिपोर्ट : श्यामजी गुप्ता , रीडर टाइम्सहरदोई : बिलग्राम नगर क्षेत्र में स्वास्थ्य विभाग की लापरवाही के चलते झोलाछाप डाक्टरों के साथ साथ फर्जी जोरों पर चल रहा है। जहां पर बिना टेक्नीशियन के धडल्ले से जांचे की जा रहीं हैं जिसपर स्वास्थ्य विभाग चुप्पी साध कर बैठा है।आपको बता दें कि लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराने के लिए सरकार ने नर्सिंग होम एक्ट बनाया था।

इस एक्ट के तहत पैथोलॉजी लैब खोलने के लिए संचालक के पास मेडिकल लैब टेक्नोलॉजी में कम से कम एक वर्षीय डिप्लोमा ,डीएमएलटी, सीएमएलटी, बैचलर डिग्री बीएमएलटी और मास्टर डिग्री का होना अनिवार्य है।

लेकिन इन सब नियमों को ताक पर रख कर लैब संचालक खुले आम नर्सिंग होम एक्ट उल्लंघन कर रहे हैं और अधिकतर जांचें अपने आप कर के मोटी कमाई कर रहे हैं। और तो और ये फर्जी लैब चलाने वाले संचालकों का क्षेत्र के अधिकतर झोलाछाप डाक्टरों से भी गहरा ताल्लुक रहता है।

जब कभी किसी गांव में झोलाछाप डाक्टर से इलाज कराने वाले को जांचों की जरूरत होतीं है। तो ये लैब में काम करने वाले वहां गांव जाकर सैंपल ले आते हैं और कमीशन भी डाक्टरों तक पहुंच जाता है। यदि इन फर्जी लैबों पर जल्द कार्रवाई नहीं की गई तो इनका कारोबार और फैल कर पूरे क्षेत्र को अपनी जद मे ले लेगा।




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *