मेट्रो के समर्थन में ट्वीट कर ट्रोल हुए अमिताभ और अक्षय

मुंबई में एक ऐसा विवाद छिड़ गया है जिसने बॉलीवुड को दो भागो में बाँट दिया है . ये मामला है आरे के जंगल को काटकर मेट्रो कार शेड बनाने का . सामाजिक कार्यकर्ता और पर्यावरणविद के साथ साथ कुछ बॉलीवुड हस्तियां भी इन जंगलो को काटने का विरोध कर रही है . वही दूसरी तरफ अमिताभ बच्चन जैसे दिग्गज कलाकार मेट्रो के पक्ष में बोल रहे है .

अक्षय कुमार ने भी मेट्रो के सपोर्ट में एक वीडियो शेयर किया है , यह वीडियो अक्षय ने मेट्रो में यात्रा करने के दौरान बनाया और मेट्रो के फायदे बताये . पर्यावरणविदों का मानना है कि आरे के जंगल को काटकर मेट्रो 3 के कार शेड के निर्माण से पर्यावरण जंगल और वन्यजीव प्राणियों पर बहुत बुरा असर पड़ेगा और मुंबई में बाढ़ का खतरा और बढ़ेगा . विरोध करने वालो का कहना है कि इस रुट को बदला जाये जिससे मेट्रो का कार्य भी हो सके और पेड़ो को भी कोई नुक्सान न हो .

लेकिन मुंबई मेट्रो रेल कॉरपोरेशन (MMRC) अपने बात पर कायम है कि मेट्रो कार शेड 3 लोकेशन को नहीं बदला जाएगा. MMRC के एमडी अश्विनी भिड़े का कहना है ​कि अगर मेट्रो 3 को आरे के जंगल एरिया से कहीं और ले जाया गया तो यह सफल नहीं हो पाएगा . प्रदर्शनों को देखते हुए मुंबई मेट्रो रेल कॉरपोरेशन ने अपने कार्यालय के बाहर एक बड़ा सा बैनर लगाकर मेट्रो का फायदा बताया है और विरोध के बिंदुओं का जवाब दिया है. सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भी दावा किया है कि कि यह जमीन सरकारी है. MMRC का कहना है कि आरे कोई वनभूमि नहीं है और विरोध करने वाले कार्यकर्ताओं को गलत जानकारी है.

कहानी में मोड़ तब आया जब अमिताभ बच्चन ने एक ट्वीट कर मेट्रो के निर्माण का समर्थन किया . फिर क्या था, बिग बी के घर के सामने भी लोगो ने प्रदर्शन शुरू कर दिया और समाजसेवकों , प्रदर्शनकारियों ने अपनी नाराजगी जताई . आलोचकों का कहना है कि बच्चन ने ऐसे समय बयान दिया जब लोग आरे के पेड़ बचाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं.

अभिनेत्री श्रद्धा कपूर ने पेड़ काटकर मेट्रो निर्माण के विरोध में बनाई गई ह्यूमन चेन में हिस्सा लेकर कार्यकर्ताओं का समर्थन किया था. अभिनेत्री स्वरा भास्कर ने भी इसके खिलाफ आवाज बुलंद की है. विरोध करने वाले कार्यकर्ताओं की मांग है कि मेट्रो कार शेड 3 लोकेशन को आरे के जंगल इलाके से बदल कर कंजुरमार्ग ले जाया जाए और इस परियोजना के लिए जो 2700 पेड़ों को काटे जाने का आदेश हुआ है, उन्हें ​जस का तस रहने दिया जाए.

 




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *