सगी बेटियों संग रेप करने वाला आरोपी पिता फरार

rape

लखनऊ : बीती रविवार रात रिश्तो को तार-तार करने वाली एक खबर सामने आयी जिसने लोगो को दिल तक झगझोर कर रख दिया . एक पिता अपनी सगी बेटियों के साथ सालो से बलात्कार करता आ रहा था . बड़ी बेटी अब बालिग़ हो गयी है लेकिन जब उसके साथ ये हैवानियत होनी शुरू हुई तब वह 7 साल की थी अब वो बच्ची 22 साल की हो गयी है . बड़ी बेटी का सब्र का बांध तब टूट गया जब आरोपी पिता छोटी बेटी के साथ भी वही दरिंदगी करने लगा .

परेशान होकर उसने अपने स्कूल की एक प्रिंसीपल से संपर्क किया और उन्हें पूरी बात बताई थी . इस पर प्रिंसीपल ने आशा ज्योति केंद्र से संपर्क किया और उसे व उसकी छोटी बहन की मुलाकात टीम से कराई और आशा ज्योति केंद्र की प्रभारी अर्चना सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री की ओर से चलाए जा रहे कवच अभियान के जरिए उन्हें करीब 15 दिन पहले उन्हें इस प्रकरण की जानकारी हुई थी . इसके बाद आरोपित की बड़ी बेटी (22) से संपर्क किया था .

काफी काउंसिलिंग करने के बाद युवती ने पिता की करतूत बताई . सगी बहनों की दास्तां सुनकर पुलिस और आशा ज्योति केंद्र के अधिकारी हैरान रह गए . आरोपित मारपीट कर दोनों बहनों के साथ दुराचार करता था और मुंह खोलने पर जान से मारने की धमकी देता था. शिकायत करने पर मां लोकलाज का भय दिखाकर खामोश कर देती थी . प्रकरण की जानकारी चाइल्ड वेलफेयर कमेटी को दे दी गई है . सोमवार को दोनों बहनों का मेडिकल परीक्षण कराया जाएगा, इसके बाद उनके बयान होंगे .

इंस्पेक्टर चिनहट का कहना है कि अभी तक आरोपित पिता का सुराग नहीं चल सका है . आरोपित की तलाश में टीमें दबिश दे रही हैं . सर्विलांस के जरिए पुलिस आरोपित की लोकेशन का पता लगा रही है . पीडि़ता की मां को पुलिस ने हिरासत में लिया है . छानबीन में पता चला है कि आरोपित महिला बेटियों को किसी से कुछ न बताने और खामोश रहने के लिए कहती थी .  पुलिस ने सोमवार को दोनों बहनों का मेडिकल परीक्षण कराया है, जो मंगलवार को भी होगा . इसके बाद दोनों के बयान लिए जाएंगे . इस तरह की घटनाये समाज का सर शर्म से झुका देती है . कहते है बच्चे सबसे ज्यादा अपने घर में और अपने माता-पिता के साथ सुरक्षित होते है . पर इस तरह की घटनाये जब सामने आती है तो सोचने पर मजबूर होना पड़ता है की लड़कियां आखिर सुरक्षित है कहाँ ?




Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *